सर्वश्रेष्ठ CFD ब्रोकर्स

ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी

ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी

शेयर बाजार में चाहते हैं पैसा कमाना तो इन 5 पसंदीदा ट्रेडिंग रणनीतियों के बारे में आपको होगा जानना

शेयर बाजार में ट्रेडिंग की कई रणनीतियां हैं लेकिन यहां पर हम सबसे ज्यादा लोकप्रिय रणनीतियों के बारे में चर्चा कर रहे हैं

ट्रेडर्स चाहें तो हर प्रकार की ट्रेडिंग रणनीति से जुड़े जोखिम और लागत को समझकर ट्रेडिंग में रणनीतियों के संयोजन का उपयोग भी कर सकते हैं

ट्रेडिंग का मतलब सिक्टोरिटीज को खरीदना और बेचना होता है। ट्रेडिंग भी कई प्रकार की होती हैं। एक दिन से लेकर सालों के लंबे अंतराल के लिए भी ट्रेडिंग की जाती है। इसके साथ ही अलग-अलग बाजारों के माहौल और वहां मौजूद जोखिम से जुड़ी विभिन्न ट्रेडिंग रणनीतियां (trading strategies) शेयरों में कारोबार करने के समय अपनाई जाती हैं।

यहां पर हम कुछ ट्रेडिंग रणनीतियों पर चर्चा कर रहे हैं जो बाकी रणनीतियों में से सबसे ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी ज्यादा लोकप्रिय हैं। ये रणनीतियां निवेशकों को तर्कसंगत निवेश निर्णय लेने में मदद कर सकती हैं।

इंट्राडे ट्रेडिंग (Intraday Trading)

संबंधित खबरें

बाजार में बेहतर कमाई की बना रहे हैं रणनीति, तो इन शेयरों पर जरूर रखें नजर, एक्सपर्ट्स भी है बुलिश

दो लिस्टेड कंपनियों के विलय से बनी देश की सबसे बड़ी रिटेल NBFC, शेयरों पर दिख रहा ये असर

जानिए Delta Corp में कैसे बनेगा पैसा!

इंट्राडे ट्रेडिंग जिसे डे ट्रेडिंग के रूप में भी जाना जाता है। ये ऐसी ट्रेडिंग रणनीति है जिसमें निवेशक एक ही दिन में शेयरों को खरीदते और बेचते हैं। वे शेयर बाजार के बंद होने के समय से पहले ट्रेडिंग बंद कर देते हैं। एक ही दिन में वे मुनाफा और घाटा बुक करते हैं।

निवेशक इन शेयरों में एक दिन में कुछ सेकंड, घंटे के लिए या इसमें दिन भर में कई बार ट्रेड ले सकते हैं। इसलिए इंट्राडे एक अत्यधिक वोलाटाइल ट्रेडिंग रणनीति मानी जाती और इसके लिए तेजी से निर्णय लेना होता है।

पोजीशनल ट्रेडिंग (Positional Trading)

पोजिशनल ट्रेडिंग एक ऐसी ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी रणनीति है जहां शेयर्स को महीनों या सालों के लंबे समय तक रखा जाता है। ऐसे शेयरों में समय के साथ भाव में बड़ी बढ़त की अपेक्षा के साथ मुनाफा कमाने की उम्मीद की जाती है। निवेशक आमतौर पर फंडामेंटल एनालिसिस के साथ कंपनी का टेक्निकल ग्राउंड देखकर इस शैली को अपनाते हैं।

इसलिए इस प्रकार की ट्रेडिंग रणनीति में आमतौर पर बाजार के रुझान और उतार-चढ़ाव जैसी अल्पकालिक जटिलताओं को नजरअंदाज कर दिया जाता है।

स्विंग ट्रेडिंग (Swing Trading)

स्विंग ट्रेडिंग आमतौर पर एक ऐसी रणनीति है जहां निवेशक शेयरों के भाव में और तेजी की उम्मीद में एक दिन से अधिक समय तक शेयरों को अपने पास रखते हैं। स्विंग ट्रेडर्स आने वाले दिनों में बाजार की गतिविधियों और रुझानों की भविष्यवाणी करने के लिए जाने जाते हैं।

इंट्राडे ट्रेडर्स और स्विंग ट्रेडर्स के बीच स्टॉक को अपने पास रखने की समय सीमा में महत्वपूर्ण अंतर होता है। इसलिए कहा जाता है कि ज्यादातर टेक्निकल ट्रेडर्स स्विंग ट्रेडिंग की कैटेगरी में आते हैं।

टेक्निकल ट्रे़डिंग (Technical Trading)

टेक्निकल ट्रेडिंग में ऐसे निवेशक शामिल हैं जो शेयर बाजार में प्राइस चेंज की भविष्यवाणी करने के लिए अपने तकनीकी विश्लेषण ज्ञान का उपयोग करते हैं। इस ट्रेडिंग शैली में कोई विशेष समय-सीमा नहीं होती है क्योंकि यह एक दिन से लेकर महीनों तक के लिए भी हो ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी सकती है।

बाजार में कीमतों में उतार-चढ़ाव को निर्धारित करने के लिए अधिकांश ट्रेडर्स अपने टेक्निकल एनालिसिस स्किल्स का उपयोग करते हैं। हालांकि स्टॉक की कीमतों का निर्धारण करते समय सबसे महत्वपूर्ण टेक्निकल एनालिसिस बाजार की परिस्थिति होती है।

फंडामेंटल ट्रेडिंग (Fundamental Trading)

फंडामेंटल ट्रेडिंग का मतलब स्टॉक में ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी निवेश करना होता है जहां ट्रेडर्स समय के साथ भाव में तेजी की उम्मीद के साथ कंपनी के स्टॉक को खरीदता है। इस तरह की ट्रेडिंग में 'बाय एंड होल्ड' रणनीति में विश्वास किया जाता है।

इस प्रकार की ट्रेडिंग आमतौर पर कंपनी के फोकस्ड इंवेंट्स में किया जाता है। इसके लिए फाइनेंशियल स्टेटमेंट्स, नतीजों, ग्रोध और मैनेजमेंट क्वालिटी का सावधानीपूर्वक विश्लेषण किया जाता है।

मिंट में छपी रिपोर्ट के मुताबिक ये ट्रेडिंग रणनीतियाँ बहुत काम की होती हैं और निवेशक को उस ट्रेडिंग शैली पर निर्णय लेने में मदद करती हैं जिसे वे अपनाना चाहते हैं। प्रत्येक प्रकार की ट्रेडिंग रणनीति से जुड़े जोखिम और लागत की गहन समझ के साथ ट्रेडर्स चाहें तो रणनीतियों के संयोजन का उपयोग करके भी शेयरों में खरीद-फरोख्त कर सकते हैं।

डिस्क्लेमर: (यहां मुहैया जानकारी सिर्फ सूचना हेतु दी जा रही है। यहां बताना जरूरी है कि मार्केट में निवेश बाजार जोखिमों के अधीन है। निवेशक के तौर पर पैसा लगाने से पहले हमेशा एक्सपर्ट से सलाह लें। मनीकंट्रोल की तरफ से किसी को भी पैसा लगाने की यहां कभी भी सलाह नहीं दी जाती है।)

Stock Market Update : आज शेयर बाजार में नहीं होगी ट्रेडिंग, जानें क्‍यों बंद रहेगा स्‍टॉक मार्केट, आगे कब है छुट्टी?

इस सप्‍ताह दो दिन शेयर बाजार में अवकाश रहा.

भारतीय शेयर बाजार में आज निवेश का इंतजार कर रहे लोगों को आज निराश होना पड़ सकता है. आज दोनों ही एक्‍सचेंज बीएसई और एनएस . अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated : October 26, 2022, 07:35 IST

हाइलाइट्स

दिवाली बलिप्रतिपदा के मौके पर आज बुधवार 26 अक्‍तूबर को ट्रेडिंग नहीं होगी.
नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज (NSE) और बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज (BSE) आज नहीं खुलेंगे.
आज देश के कई हिस्‍सों में गोवर्धन पूजा का त्‍योहार भी मनाया जा रहा है.

नई दिल्‍ली. भारतीय शेयर बाजार (Stock Market) में निवेश की तैयारी कर रहे लोगों के लिए बड़ा अपडेट है. दिवाली बलिप्रतिपदा के मौके पर आज बुधवार 26 अक्‍तूबर को ट्रेडिंग नहीं होगी और दोनों ही प्रमुख स्‍टॉक एक्‍सचेंज, नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज (NSE) और बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज (BSE) आज नहीं खुलेंगे.

शेयर बाजार की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, दोनों ही एक्‍सचेंज पर हर कारोबारी सत्र में सुबह 9.15 बजे से दोपहर 3.30 बजे तक होने वाली ट्रेडिंग आज बंद रहेगी. बलिप्रतिपदा दिवाली के चौथे दिन मनाया जाता है. यह त्‍योहार हिंदूचंद्र मास कार्तिक के शुक्ल पक्ष की प्रथम तिथि को मनाया जाता है. इसे राजा बलि पर भगवान विष्‍णु की विजय के रूप में मनाया जाता है. आज देश के कई हिस्‍सों में गोवर्धन पूजा का त्‍योहार भी मनाया जा रहा है.

क्‍या-क्‍या आज रहेंगे बंद
बीएसई के अनुसार, आज के दिन एक्‍सचेंज पर इक्विटी सेग्‍मेंट, इक्विटी डेरिवेटिव सेग्‍मेंट और एसएलबी सेग्‍मेंट के साथ करेंसी डेरिवेटिव सेग्‍मेंट व इंटेरेस्‍ट रेट डेरिवेटिव सेग्‍मेंट में कोई ट्रेडिंग नहीं की जाएगी. इसके अलावा आज नए डेट सेग्‍मेंट में भी कोई ट्रेडिंग नहीं की जाएगी. आज रिपोर्टिंग, सेटलमेंट एंड ट्रेडिंग और ट्राई पार्टी रेपो व कमोडिटी ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी डेरिवेटिव सेग्‍मेंट में ट्रेडिंग बंद रहेगी.

शाम को खुलेगा यह एक्‍सचेंज
आज मल्‍टीकमोडिटी एक्‍सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड (MCX) भी सुबह के सत्र में बंद रहेगा. यह देश का पहला लिस्टिंग एक्‍सचेंज है. हालांकि, एमसीएक्‍स पर शाम के सत्र में ट्रेडिंग होगी और यह शाम 5 बजे से ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी रात 11.55 बजे तक खुला रहेगा. कमोडिटी डेरिवेटिव सेग्‍मेंट में भी सुबह के सत्र में कारोबार बंद रहेगा, लेकिन शाम के सत्र में यहां भी ट्रेडिंग शुरू हो जाएगी.

नवंबर में भी बंद रहेगा शेयर बाजार
अक्‍तूबर में दो तीन दिन बंद रहने के बाद नवंबर में भी एक दिन शेयर बाजार नहीं खुलेगा. एक्‍सचेंज से मिली जानकारी के अनुसार, 8 नवंबर को गुरुनानक जयंती के मौके पर बीएसई और एनएसई दोनों ही एक्‍सचेंज पर ट्रेडिंग नहीं होगी. इससे पहले अक्‍तूबर में 5 तारीख को दशहरा के मौके पर शेयर बाजार बंद रहा तो 24 तारीख को दिवाली के दिन भी सुबह कोई ट्रेडिंग नहीं हुई. हालांकि, दिवाली पर शाम को करीब एक घंटे के लिए मुहूर्त ट्रेडिंग ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी पर बाजार खुला.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

सबसे उपयुक्त Forex ट्रेडिंग समय

Forex में ट्रेड करने के लिए सप्ताह के सर्वश्रेष्ठ दिन - Olymp Trade

Forex बाजार के प्रमुख फायदों में से एक यह है कि इस में चौबीसों घंटे ट्रेडिंग खुली रहती है और कई समय-क्षेत्रों (टाइम जोन) में संचालित होता है। एक स्वाभाविक प्रश्न उठता है कि सप्ताह के कौन से समय और कौन ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी से दिन सबसे अधिक लाभदायक होते हैं। बाजार की अवधि को समझकर, ट्रेडर Forex बाजार में सफलतापूर्वक ट्रेड करने के लिए सबसे उपयुक्त समय निर्धारित कर सकते हैं।

अतिरिक्त विवरण और स्पष्टीकरण प्राप्त करने के लिए डैश युक्त नीला शब्द और चित्रों के ऊपर स्थित हरे बिंदु के साथ अंतर्क्रिया करें।

दृश्य सामग्री पर अधिक विवरण यहां होंगे।

शब्द की परिभाषा या स्पष्टीकरण यहां उपलब्ध होगा।

समय एक Forex ट्रेडर का सर्वोत्कृष्ट दोस्त है

Forex बाजार में चार ट्रेडिंग सत्र होते हैं जो सप्ताहांत के ब्रेक के साथ सोमवार से शुक्रवार तक एक दूसरे के बाद होते हैं। यूरोपीय बाजार को छोड़कर सभी ट्रेडिंग सत्र 9 घंटे तक चलते हैं, जिसकी अवधि 8 घंटे की होती है।

Forex ट्रेडिंग के सत्र:

  • सिडनी (या प्रशांत) 22:00 से 7:00 बजे UTC तक।
  • लंदन (या यूरोपीय) 8:00 से 17:00 UTC तक।
  • टोक्यो (या एशियाई) 23:00 ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी से 9:00 UTC तक।
  • न्यूयॉर्क (या अमेरिकी) 13:00 से 22:00 UTC तक।

गौर करने वाली बात है कि दिन भर में ट्रेडिंग की गतिविधि एक ही तरह समान नहीं है। प्रत्येक सत्र के बीच एक समय अवधि होती है जब दो सत्रों में एक साथ ट्रेडिंग किया जाता है।

Forex पर ट्रेडिंग सत्रों का एक साथ होना

दो सत्रों के एक साथ संचालन के दौरान, Forex बाजार में ट्रेडिंग की मात्रा में वृद्धि और अस्थिरता देखी जाती है। ट्रेडिंग सत्रों का एक साथ होना एक ट्रेडर के लिए Forex बाजार में ट्रेडिंग के लिए दिन का सबसे लिक्विड समय होता है।

सबसे आश्चर्यजनक अस्थिरता लंदन और न्यूयॉर्क सत्रों के समय पर देखी जाती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि अमेरिकी डॉलर और यूरो ट्रेडिंग के लिए दो सबसे लोकप्रिय मुद्राएं हैं। सत्रों का जंक्शन (मिलाप) 13:00 से 17:00 UTC तक 5 घंटों का होता है।

दूसरा सबसे अस्थिर ट्रेडिंग सत्र, 2:00 से 4:00 UTC तक, सिडनी और टोक्यो बाजारों के बीच होता है।

सुबह 3:00 से 4:00 UTC तक, लंदन और टोक्यो के बाजारों में एक साथ ट्रेडिंग होता है। हालांकि, एक घंटे का क्रॉसओवर से उच्च अस्थिरता पैदा होने का अवसर नहीं मिलता है। इसके अलावा, अधिकांश अमेरिकी ट्रेडर इस समय सक्रिय नहीं रहते हैं।

ट्रेडिंग के सबसे उपयुक्त महीने और दिन

बाजारों और उनकी पारस्परिक क्रिया की समझ से एक ट्रेडर को अपने ट्रेडिंग कार्यक्रम को व्यवस्थित करने में मदद मिलती है। हालांकि, सप्ताह के इन दिनों कुछ बारीकियों को नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए।

सोमवार सप्ताह का पहला और सबसे शांत कारोबारी दिन होता है। यदि इस समय विश्व की महत्वपूर्ण घटनाएं नहीं होती हैं, तो इस दिन बाजार में कम अस्थिरता और व्यापक स्प्रेड बना रहेगा। इसके अलावा, बाजार में छुट्टी का बंद सोमवार को सबसे अधिक बार मनाया जाता है। छुट्टियों के दौरान दुनिया भर में एक्सचेंजों के कारोबार के बारे में अधिक जानकारी के लिए, इस तरह की हमारी विशेष सामग्री देखें।

मंगलवार और बुधवार Forex बाजार में गतिविधि के दिन हैं। अनुभवी ट्रेडर के लिए, Forex बाजार में ट्रेड करने के लिए ट्रेडिंग सप्ताह का मध्य सबसे अच्छे दिन होते हैं।

ट्रेडर के लिए गुरुवार और शुक्रवार रोमांचक दिन होते ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी हैं। आर्थिक कैलेंडर समाचार, छुट्टियों और अन्य वित्तीय आंकड़ों से सम्बंधित जानकारी से भरा होता है। इस दिन Forex बाजार पर प्रभाव मिला-जुला हो सकता है।

वर्ष का महीना मुनाफे को कैसे प्रभावित करता है

यहां Forex पर ट्रेडिंग के लिए सबसे अच्छे महीनों का विश्लेषण प्रस्तुत है।

Forex में वित्तीय लेनदेन करने के लिए जनवरी से मई तक का समय संभावित रूप से अच्छा समय है। नए साल की समाप्ति और क्रिसमस की छुट्टियां निवेश के लिए अनुकूल परिस्थितियां बनाती हैं।

सबसे सपाट समय, जून से अगस्त तक, सबसे कम अस्थिरता का समय है। यह कम अस्थिरता और शरद ऋतु के महीनों की तैयारी के कारण सफल Forex ट्रेडिंग के लिए परिस्थिति तैयार करता है।

कई बाजार के सहभागी सितंबर और दिसंबर के बीच की बेकार अवधि में सुधार करना चाहते हैं। सकारात्मक संतुलन हासिल करने की इच्छा से बाजार में अस्थिरता बढ़ जाती है।

ट्रेडर की रणनीति और विश्व समाचार और घटनाओं के प्रभाव के आधार पर बाजार की स्थिति नाटकीय रूप से बदल सकती है। Forex बाजार में सफल ट्रेडिंग की कुंजी हमेशा सतर्क रहना है। यदि आप सप्ताह के किसी भी दिन ट्रेड करना चाहते हैं, तो Olymp Trade के साथ क्रिप्टो ट्रेडिंग एक बेहतरीन साधन हो सकता है।

सावधान रहने का समय

Forex में बेहतरीन ट्रेडिंग के समय सतर्कता और तैयारी ज़रूरी होती है। कुछ सरल नियमों का पालन करने से आपको ट्रेडिंग की दक्षता बढ़ाने में मदद मिलेगी।

सोमवार की सुबह अनिश्चितता और अस्थिरता की अवधि होती है, क्योंकि ट्रेडिंग की शुरुआत के दौरान ट्रेंड को निर्धारित करना मुश्किल होता है। कुछ घंटों के लिए अनिश्चितता की अवधि गुजरने का इंतज़ार करना बेहतर होता है।

महत्वपूर्ण आर्थिक समाचारों के जारी होने के दौरान, नौसिखियों को ट्रेडिंग नहीं करनी चाहिए क्योंकि ट्रेडिंग ट्रेंड की गतिविधि की भविष्यवाणी करना मुश्किल है। खबरों पर बाजार की प्रतिक्रिया का इंतजार करना बेहतर होता है।

जब तक आपकी ट्रेडिंग रणनीति में उच्च अस्थिरता की आवश्यकता न हो, ट्रेडिंग सत्र क्रॉसओवर समय से बचें। उच्च अस्थिरता हमेशा एक ट्रेडर के हाथ में नहीं होती है।

छुट्टियां ट्रेंड को प्रभावित करती हैं, जिसका अर्थ है कि यह Forex बाजार में ट्रेड करने का सबसे अनुकूल समय नहीं है।

ज्ञान ही शक्ति है

Forex ट्रेडिंग सत्रों की विशेषताओं का ज्ञान कुशल मुद्रा ट्रेडिंग के लिए फायदाजनक है। व्यक्तिगत प्राथमिकताओं, लक्ष्यों और ट्रेडिंग रणनीतियों के आधार पर ट्रेडर व्यक्तिगत रूप से Forex बाजार में ट्रेड करने ट्रेडिंग रणनीति के लिए तैयारी के लिए दिन का सबसे उपयुक्त समय चुनता है।

अर्जित ज्ञान को व्यवहार में लागू करने का सबसे अच्छा तरीका है Olymp Trade पर ट्रेडिंग करना। यदि आपको अभी तक अपने कौशल पर भरोसा नहीं है, तो Olymp Trade डेमो खाते पर अभ्यास करें, जो सुरक्षित और मुफ़्त है। एक बार जब आप तैयार हो जाएं, तो अपने वास्तविक खाते में छलांग मारें और अपने वास्तविक मुनाफे में वृद्धि करें।

जोखिम चेतावनी: लेख की सामग्री में निवेश की सलाह निहित नहीं है और आप अपनी ट्रेडिंग गतिविधि और/या ट्रेडिंग के परिणामों के लिए पूरी तरह से स्वयं जिम्मेदार हैं।

Olymp Trade के साथ वित्त बाजारों में ट्रेड शुरू करने से पहले पता होने वाली ये अहम बातें

online trading

नई दिल्ली। ट्रेडिंग केवल एक कौशल ही नहीं, बल्कि कुछ आदतों को बनाए रखने का अभ्यास भी है। ऑनलाइन ट्रेडिंग के बारे में कई भ्रांतियां और अपवाहें भी हैं लेकिन इतनी सारी अलग-अलग राय और आवाजें ट्रेडिंग से जुड़ी भ्रांतियों को वास्तविकता से अलग करना मुश्किल बनाती हैं। फ़ॉरेक्स और ऑप्शन ट्रेडिंग के बारे में ये गलत बातें कई जगहों और लोगों से आती हैं। हालांकि, जहां कोई पोडकास्ट डे ट्रेडिंग को लाखों कमाने का तरीका बता सकता है, या कोई यूट्यूबर पूरे उद्यम को धोखाधड़ी कह सकता है, यह जरूरी नहीं कि इनमें से कोई भी पूरी तरह सही हो।

रेटिंग: 4.29
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 425
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *