क्रिप्टो रोबोट

चालू खाता क्या है प्रकार और लाभ

चालू खाता क्या है प्रकार और लाभ
जिन लोगों के पास प्रचुर मात्रा में धन होता है लेकिन वे लोग शेयर बाजार के रिस्क को झेलना नही चाहते हैं और यदि ऐसे लोग लम्बी अवधि के लिए धन बचाना चाहते हैं तो वे सावधि जमा खाता या मियादी जमा खाता खुलवा लेते हैं l अब आप यहाँ पर यह सोच सकते हैं कि लोग बचत खाता में भी तो पैसे जमा करा सकते हैं फिर सावधि जमा खाता क्यों खुलवाते हैं ? इसका कारण यह है कि बचत खाता पर बैंक बहुत ही कम ब्याज देता है जैसे 3% से 5% वार्षिक परन्तु सावधि जमा खाता में 8% से 10% का ब्याज मिलता है l सावधि जमा खाता की विशेषता यह होती है कि इसमें धन एक निश्चित समय के लिए जमा हो जाता है जैसे 1 साल से लेकर 10 साल तकl यदि कोई खाता धारक किसी खास जरुरत के समय अपने इस सावधि जमा खाता में जमा राशि को निकालना चाहता है तो बैंक उस पर कुछ पेनाल्टी लगाकर उसका शेष धन वापस कर देता है l

saving-account

भारतीय बैंकों में कितने प्रकार के खाते खोले जाते हैं?

भारत में आधुनिक बैंकिंग सेवाओं का इतिहास दो सौ वर्ष पुराना है। देश में विभिन्न आय वर्ग के लोगों, उनकी जरूरतों और अर्थव्यवस्था की जरूरतों के हिसाब से विभिन्न प्रकार के बैंक खातों का विकास हुआ है, जैसे चालू खाता बड़े व्यापारी या संस्थान खुलवाते हैं जबकि बचत खाता मध्य आय वर्ग के लोग खुलवाते हैं l इस लेख में हम बचत खातों, चालू खातों और सावधि जमा खातों के बारे में पढेंगेl

भारत में आधुनिक बैंकिंग सेवाओं का इतिहास दो सौ वर्ष पुराना है। देश में विभिन्न आय वर्ग के लोगों, उनकी जरूरतों और अर्थव्यवस्था की जरूरतों के हिसाब से विभिन्न प्रकार के बैंक खातों का विकास हुआ है, जैसे चालू खाता बड़े व्यापारी या संस्थान खुलवाते हैं जबकि बचत खाता, मध्य आय वर्ग के लोग खुलवाते हैं l इस लेख में हम बचत खातों, चालू खातों और सावधि जमा खातों के बारे में पढेंगेl

करंट अकाउंट का मतलब क्या होता है? (What is Current Account)

Current Account, जिसे हिंदी में चालू खाता कहा जाता है। यह एक प्रकार का बैंक अकाउंट है जिसे मुख्य रूप से बिज़नेस से संबधित Fund Transctions के लिए उपयोग किया जाता है। इसलिए Current Account ज्यादातर कंपनी या कारोबार मालिकों के द्वारा खुलवाया जाता है और ये लोग इस अकाउंट के माध्यम से पैसे का लेन देन बड़े पैमाने पर करते है।

यह Saving Bank Account से बिलकुल अलग ही अकाउंट है। जानकारी के लिए आपको बता दूँ चालू खाता (Current Account) पर बैंक आपको किसी भी प्रकार का ब्याज (Interest) नहीं देती है। करंट अकाउंट मे Fund ट्रांसक्शन्स की कोई सिमा नहीं होती है आप जितना चाहे उतना प्रतिदिन पैसे का लेन देन कर सकते है। निचे आपको current account के फायदे के बारे में जानकारी दी गयी है। सेविंग अकाउंट और करंट अकाउंट में क्या अंतर है ये जानने के लिए आप ये आर्टिकल पढ़ सकते है Saving और Current Account में अंतर क्या है?

Current Account के फायदे और नुकसान क्या है?

Current Account (चालू चालू खाता क्या है प्रकार और लाभ खाता) ओपन कराने के कई सारे फायदे है तो कई नुकसान भी है जिसके बारे में विस्तार से निचे जानकारी दी गई है।

फायदे (Benefits)

  • करंट अकाउंट के माध्यम से एक बिजनेसमैन बड़े पैमाने पर पैसे का लेन देन कर सकता है।
  • प्रतिदिन पैसे की लेन देन के लिए कोई सिमा तय नहीं है आप जितना चाहे ATM या बैंक ब्रांच से पैसा निकाल और जमा कर सकते है आप जितने चाहे उतना Fund Transctions कर सकते है।
  • करंट अकाउंट में आपको ओवरड्रफ्ट यानि की ज्यादा पैसा निकालने की सुविधा होती है जिसे बाद में आप पैसे डालकर ब्याज सहित मेन्टेन किया जाता है।
  • करंट अकाउंट में बचत खाते की तरह ही आपको डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, नेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, डिजिटल पेमेंट, sms alert इत्यादि की सुविधा मिलती है।
  • बिज़नेस कारोबारियों के लिए करंट अकाउंट, सेविंग अकाउंट से ज्यादा सुविधाजनक होती है।
  • करंट अकाउंट के माध्यम से एक बिज़नेस owner Cheques, pay-orders, or demand-drafts से direct payment कर सकते है।

चालू चालू खाता क्या है प्रकार और लाभ खाता खोलने के लिए क्या क्या दस्तावेज चाहिए?

बैंक में Current Account (चालू खाता) खोलने के लिए जरुरी डाक्यूमेंट्स निम्नलिखित है।

    चालू खाता क्या है प्रकार और लाभ
  • दो लेटेस्ट पासपोर्ट साइज कलर फोटो
  • पहचान पत्र (Identity Proof) के रूप में आप Aadhar Card , Pan Card , ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, वोटर आईडी, राशन कार्ड इत्यादि प्रमाण प्रत्रों का इस्तेमाल कर सकते है।
  • Address Proof के लिए आप इलेक्ट्रिसिटी, वाटर, गैस बिल, राशन कार्ड, पासपोर्ट, वोटर आईडी, बैंक पासबुक इत्यादि का इस्तेमाल कर सकते है।
  • Partnership deed (for partnership Firm)
  • Certificate of incorporation (companies के लिए)

करंट अकाउंट (Current Account) कैसे खुलता है?

ऊपर बताये गए सभी तरह के Documents को लेकर आप जिस किसी भी बैंक में करंट अकाउंट खुलवाना चाहते है वहाँ जाये और करंट अकाउंट का फॉर्म लेकर सभी तरह की बेसिक जानकारी जैसे की नाम, पता, मोबाइल नंबर, बिज़नेस से संबधित जानकारी को अच्छे से भरने के बाद इन सभी डाक्यूमेंट्स को Attached कर सबमिट कर दें।

बैंक आपके द्वारा दी गई जानकारी और डाक्यूमेंट्स का वेरिफिकेशन कर एक से दो दिनों के भीतर आपका बैंक में करंट अकाउंट ओपन कर देगी और अकाउंट से सम्बंधित डेबिट, क्रेडिट कार्ड, चेक बुक इत्यादि प्रदान कर देगी।

Saving Vs Current Account: बैंक के सेविंग और करंट अकाउंट में क्या होता है अंतर, दोनों अकाउंट में मिलते हैं ये लाभ

By: ABP Live | Updated at : 30 Jan 2022 11:20 AM (IST)

Edited By: Taruna

सेविंग और करंट अकाउंट में अंतर

Saving and Current Account Difference: आजकल देश में हर किसी के पास बैंक खाता हो गया है. ज्यादातर सरकारी योजनाओं (Government Schemes) के लाभ आपको बैंक अकाउंट के द्वारा ही मिलते हैं. बैंक में खाता खुलवाते वक्त आपको अकाउंट खोलने का फार्म (Account Opening Form) दिया जाता है. इस फॉर्म में आपसे यह जानकारी ली जाती है कि आप सेविंग / करंट अकाउंट (Saving and Current Account) में कैन-सा खुलवाना चाहते हैं. लेकिन, यह बहुत कॉमन है कि ज्यादातर लोग सेविंग अकाउंट ही खुलवाते हैं. इसके अलावा हम जब भी ATM से पैसे निकालते हैं तो उस दौरान भी हमें स्क्रीन पर अकाउंट को चुनने का ऑप्शन आता है. हमें बताना पड़ता है कि हमारा अकाउंट सेविंग है या करंट है.

सेविंग अकाउंट या करंट अकाउंट, जानिए किसमें खाता खोलना होगा बेहतर

सेविंग अकाउंट या करंट अकाउंट, जानिए किसमें खाता खोलना होगा बेहतर

जानिए चालू और बचत खाते के फायदे (फोटो-Freepik)

देश के सभी बैंक लोगों को कई तरह के खाते खोलने का विकल्‍प देते हैं। इसमें सबसे ज्‍यादा सेविंग और करंट अकाउंंट में खाता सबसे अधिक खोला जाता है, लेकिन ज्‍यादातर लोगों को इन दो अकाउंट को लेकर कंफ्यूजन होता है कि किसमें आपको अधिक फायदा मिलेगा और कौन आपके लिए बेहतर विकल्‍प हो सकता है। हालांकि दोनों प्रकार के खातों के अलग-अलग फायदे हैं।

सेविंग अकाउंट या बचत खाता (Savings account)

सेविंग अकाउंट या बचत खाता लोगों को पैसे जमा करने के साथ ही पैसे सेव और समय के साथ अपने धन को बढ़ाने या बनाने में मदद करने के साथ-साथ खाताधारकों को अन्य लेनदेन करने और बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठाने में मदद करता है। इसे ज्‍यादातर सैलरी पाने वाले लोगों द्वारा यूज में लाया जाता है। इसमें सीमित संख्या में निकासी होती है, जिसे बैंक द्वारा निर्धारित किया जा सकता है (आमतौर पर, 3 और 5 के बीच) बिना अतिरिक्त शुल्क के निकासी की जा सकती है।

बचत खाता पर ब्‍याज की भी सुविधा दी जाती है। वर्तमान में सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में 2.75 प्रतिशत से 4 प्रतिशत और निजी बैंकों में 2.75 प्रतिशत से 6.75 प्रतिशत के बीच है। वहीं कुछ बैंकों ने बचत खाते को आरबीआई के रेपो रेट से जोड़ा है, जिससे जब रेपो रेट में संशोधन होगा ब्‍याज दर बढ़ेगी।

Mainpuri By-Election: शिवपाल के करीबी, तीन हथियारों के मालिक, जानिए कितनी प्रॉपर्टी के मालिक हैं डिंपल के खिलाफ लड़ चालू खाता क्या है प्रकार और लाभ रहे BJP उम्मीदवार रघुराज सिंह शाक्य

चालू खाता (Current account)

एक चालू खाता भी बचत खाते की तरह एक प्रकार का जमा खाता है, लेकिन ज्‍यादा पैसों की लेनदेन के लिए इसका उपयोग किया जाता है। यह खाता ज्‍यादातर व्यवसायों, उद्यमियों, संस्थानों और अन्य बड़ी संस्थाओं द्वारा खोला जाता है, जो प्रतिदिन के हिसाब से अधिक लेनदेन करते हैं। हालांकि, बचत खाते के विपरीत, एक चालू खाता शून्य-असर वाले ब्याज खाते हैं, लेकिन खाताधारकों को एक ओवरड्राफ्ट सुविधा प्रदान किया जाता है।

जानिए कौन सा होगा बेहतर?

ब्याज दरें: बचत खातों में खाते में जमा राशि पर अलग-अलग ब्याज दरें होती हैं। कई डिजिटल बचत खाते भी हैं, जो बैंकों द्वारा सुरक्षा के आश्वासन के साथ उच्च ब्याज दरों पर पेश किए जाते हैं। चालू खातों में जमा धन पर कोई ब्याज नहीं मिलता है।

न्यूनतम शेष और अतिरिक्त शुल्क: बचत और चालू खातों दोनों पर रखरखाव और निकासी से जुड़े शुल्क होंगे। वे बैंक के आधार पर अधिक या कम हो सकते हैं। हालांकि यह आवश्यक है कि आप न्यूनतम शेष राशि को जानते हैं, जिसे बनाए रखने की आवश्यकता है, और यदि आप इसे बनाए रखने में विफल रहते हैं तो जुर्माना लगाया जाता है।

जबकि बचत खातों में न्यूनतम शेष राशि की आवश्यकताएं कम होती हैं, चालू खातों में अधिक न्यूनतम शेष राशि की आवश्यकताएं होती हैं। चालू खातों के साथ आपको ओवरड्राफ्ट शुल्कों को भी ध्यान में रखना पड़ सकता है।

Current Account क्या है चालू खाते की पूरी जानकारी

Current Account चालू खाता क्या है प्रकार और लाभ क्या है जब लोग बैंक में अपना खाता खुलवाने जाते है तो कई लोगो के बीच Current Account और Saving Account बीच असमंजस होता है लोग नहीं जानते है कि Current Account क्या होता है अगर आपको भी इन खातों के बीच कोई असमंजस है तो आज हम आपका असमंजस पूरी तरह से दूर करने की कोशिश करेंगे. आपको बता दे कि दोनों खातों के बीच काफी अंतर होता है करंट अकाउंट यानी चालू खाते को जहां बिजनेस के लिए खुलवाया जाता है वहीं सेविंग अकाउंट को किसी एक व्यक्ति के लिए पर्सनल लेनदेन के लिए खुलवाया जाता है. तो चलिए इस खाते के बारे में जानते है.

Current Account क्या है

Table of Contents

Current Account क्या है

जैसा की हमने आपको बताया कि Current Account को ज्यादातर बिजनेस के काम में लिया जाता है इसमें आपको Saving Account की तरह किसी भी तरह का ब्याज नहीं मिलता है. जैसे सेविंग अकाउंट में करीब 4% का ब्याज मिलता है और सेविंग अकाउंट में आपको दिन के 4 से 5 लेनदेन फ्री होते हैं वैसे चालू खाते यानी करंट अकाउंट ब्याज तो नहीं मिलता लेकिन जो लेनदेन होते है उनकी कोई समय सीमा नहीं होती है करंट अकाउंट में एक दिन 1000 लेनदेन भी फ्री में कर सकते हैं. इस तरह दोनों में ब्याज और लेनदेन का अंतर होता है.

अब आप सोच रहे होंगे कि इस तरह की खाते की किसको जरुरत होगी जिसमे ब्याज नहीं दिया जाता है तो आपको बता दे फ्लिप्कार्ट और अमेज़ जैसी ऑनलाइन शोपिंग साईट के अकाउंट में हर दिन के हजारों लेन देन होता है तो Current Account की जरुरत ऐसे बिजनेस को पड़ती है जिसमें लगातार लेनदेन होता रहता है. ऑनलाइन शोपिंग से जुड़ी लगभग हर वेबसाइट Current Account (चालू चालू खाता क्या है प्रकार और लाभ खाते) का प्रयोग करती है हालाकि इसमें उन्हें ब्याज तो नहीं मिलता है लेकिन इस अकाउंट के तहत जितने भी लेनदेन होते है वह सभी फ्री होते हैं. चालू खाता व्यापारियों या बिजनेसमैन के लिए काफी सुविधाजनक होता है.

Current Account के फायदे और नुकसान

इस खाते का सबसे बड़ा फायदा तो यहीं होता है कि इसमें दिन में कितने भी लेनदेन फ्री में कर सकते है लेनदेन करने में अलग से कोई चार्ज नहीं लगता है. इस खाते में व्यापारी अपने अकाउंट में मौजूद रकम से ज्यादा पैसा भी निकाल सकता है अर्थात व्यापारी बैंक से लोन ले सकता है.

बचत खाते यानी सेविंग अकाउंट की तरह इस खाते में ATM और Net Banking की फ्री सुविधा दी जाती है हालाकि इस खाते में बचत खाते की तरह ATM और Net Banking से लेनदेन करने पर कोई भी लिमिट नहीं होती है.

बिजनेस करने वाले व्यक्तियों के लिए बचत खाते से ज्यादा चालू खाता ज्यादा सुविधाजनक साबित होता है इसलिए अगर आप एक व्यापारी या बिजनेसमैन है तो आपको अपने बिजनेस के लिए चालू खाता यानी करंट अकाउंट की खुलवाना चाहिए.

करंट अकाउंट (चालू खाता) से होने वाले नुकसान की बात करे तो यहां पर आपको एक ही बड़ा नुकसान देखने को मिलता है और वो ये है कि इस खाते के तहत आपकी जमा राशी पर कोई ब्याज नहीं मिलता है.

रेटिंग: 4.38
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 520
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *